खेल पत्रकारिता क्या हैं और कैसे बनें

आज की इस नई आर्टिकल में आप जानने वाले हैं खेल पत्रकारिता क्या हैं और साथ ही यदि आप खेल पत्रकार बनना चाहते हैं तो कैसे बन सकते हैं?

आज के समय में पत्रकारिता के अनेक मीडियम हो गए हैं जैसे कि अखबार, दूरदर्शन, वेब-पत्रकारिता, रेडियो, पत्रिकायें इत्यादि. और वैसे में एक पत्रकार का भी क्षेत्र कई हिस्सों में विभाजित हो गया है.

एक पत्रकार चाहे तो कई विषय और घटनाओं पर रिपोर्ट कर सकता है या किसी खास टॉपिक से संबंधित ही केवल लेखन या रिपोर्टइंग कर सकता है जैसे कि खेल पत्रकारिता.

इसलिए यदि आपकों खेल पत्रकारिता में रूचि है और एक खेल पत्रकार बनना चाहते हैं तो यह आर्टिकल ख़ास तौर पर आपके लिए बनाया गया है.

पत्रकारिता क्या हैं – What is Journalism in Hindi

हम जानते हैं कि यह पोस्ट ख़ास तौर पर खेल पत्रकारिता के ऊपर बनाई गई है लेकिन आपकों नहीं लगता कि खेल पत्रकारिता के बारे में जानकारी लेने से पहले पत्रकारिता क्या हैं? इसके बारे में जानना चाहिए.

पत्रकारिता एक आधुनिक सभ्यता का मुख्य व्यवसाय होता है जिसमें किसी विषय और घटनाओं पर एकत्रीकरण, जानकारी, लेखन इत्यादि चीजें लोगो की बीच पहुंचाने का काम करती हैं.

जैसे कि हमने बताया आज के युग में पत्रकारिता अलग – अलग माध्यम से किया जाता है जैसे कि अखबार, दूरदर्शन, रेडियो, वेब – पत्रकारिता इत्यादि.

पत्रकारिता को इंग्लिश में “जर्नलिज़्म” ( journalism) कहा जाता है, जिसका मतलब एक रूप से ” दैनिक” होता है. यानी कहने का मतलब जिसमें दैनिक विषयों और घटनाओं पर विवरण हो.

यह देश – दुनिया में घट रही है घटनाओं और बातों को अनेक माध्यम से पहुंचाने का काम करती हैं, और इसे ऐसे करने से समाज की कई चीजों के बारे में जानकारी मिलती हैं.

उसी प्रकार खेल पत्रकारिता है जो आपकों अनेकों माध्यम से खेल से संबंधित बातों और रिपोर्ट को आप तक पहुँचाती हैं. ताकि यदि आप खेल से संबंधित कोई जानकारी को जानना चाहते हैं तो जल्द से जल्द जान सकें.

खेल पत्रकारिता क्या हैं – What is Sports Journalism in Hindi

खेल पत्रकारिता क्या हैं और कैसे बनें

खेल पत्रकारिता यानी स्पोर्ट्स जर्नलिज़्म एक प्रकार का पत्रकारिता का रूप है जो खेल (Sports) के विषय और घटनाओं पर लेखन और रिपोर्ट करती हैं.

इनका काम खेल के खिलाड़ियों और एथलीटों से संबंधित बातों को उनके यूजर्स तक पहुँचाना होता है और ताकि लोग खेल से जुड़ी बातों को जल्द से जल्द जानकारी ले सकें.

यह मीडिया संगठन का एक हिस्सा होता है जिसका अभ्यास और व्यवसाय खेलों पर निर्भर करती हैं.

यदि कुछ समय पहले की बात किया जाए तो खेल पत्रकारिता को उतनी महत्‍व नहीं दिया जाता था लेकिन बदलते युग के इस समय में यह पत्रकारिता अपने चरम सीमा पर है.

इसलिए यदि आप इसमें कैरियर बनाना चाहते हैं तो यह आपके लिए एक नई विकल्प हो सकती हैं. यही कारण है कि इस आर्टिकल के माध्यम से आपकों खेल पत्रकारिता के बारे में जानकारी दी जा रही है.

खेल पत्रकार कैसे बनें – खेल पत्रकार की पूरी जानकारी हिंदी में 

जैसे कि आप जानते हैं खेल ( sports) के प्रति रुचि रखने वाले लोग दिन प्रतिदिन बढ़ते जा रहे हैं इसलिए आज के समय में खेल पत्रकारिता मीडिया का एक अहम हिस्सा बन गया है.

पिछले कुछ समय में हमने इस क्षेत्र में काफ़ी बदलाव देखे है और अनुभव किया है कि खेल हर किसी के जीवन में कितना मायने रखता है.

शायद यही कारण है कि जहां पहले खेल पत्रकारिता को लोग उतनी अहमियत नहीं देते थे और आज एक समय हैं जहां पत्रकारिता के क्षेत्र में यह एक अहेम भूमिका निभाती हैं.

अभी खेल से संबंधित बातों को अखबारों और न्यूज़ चैनल पर अलग से खबर दिखाई जाती है और इसके बढ़ती रुचि के कारण स्पोर्ट्स के लिए कोई अलग से न्यूज़ चैनल आ गई है जो केवल स्पोर्ट्स पर निर्धारित है.

खेल पत्रकारिता कौन है – Who is Sports Journalism in Hindi

जैसे कि नाम से ही अनुभव होता है कि खेल पत्रकारिता खेल ( sports) से संबंधित बातों और घटनाओं के बारे में रिपोर्ट करता है.

हम जानते हैं कि आज खेल के कितने fans हो गए हैं जो खेल से संबंधित अपडेट और खबर की जानकारी के लिए उतावले रहते हैं जिसका काम एक खेल पत्रकारिता का होता है.

बदलते युग के मुताबिक खेल पत्रकारिता करने का माध्यम भी अनेक हो गए हैं जैसे कि अखबार, दूरदर्शन, वेबसाइट, एप्लीकेशन, वेब – पत्रकारिता, रेडियो इत्यादि.

आज दुनियाभर में खेल से संबंधित बातों को जानने के लिए लाखों की संख्या में लोग मौजूद हैं इसलिए यह दिन प्रतिदिन मीडिया के क्षेत्र में नई भूमिका बनाते जा रहा है.

खेल पत्रकारिता में कैरियर के विकल्प – खेल पत्रकार कैरियर ऑप्शन

खेल के चाहने वाले और इसके फॉललोअर को देखते हुए यदि आप इसमें अपना कैरियर बनाते हैं तो यह आपके लिए अच्छी ऑप्शन साबित हो सकता हैं.

इस कैरियर में आपकों खेल से संबंधित रिपोर्टइंग के अलावा कई नए जगह पर जाने का मौका मिलता है और साथ ही कई खिलाड़ियों और एथलीटों के साथ बातचीत करने का मौका भी मिलता है.

स्पोर्ट्स हर समय कुछ अन्तराल में होते रहते हैं जिसके कारणवश आपका पत्रकारिता कभी भी नहीं रुकता है और अच्छे तरह से हर रोज लोगों को खेल के संबंधित अपडेट और खबर देती रहती हैं.

खेल पत्रकार बनना कितना आसान हैं? – खेल पत्रकारिता

आज के समय में खेल पत्रकार बनना इतना आसान नहीं है क्योंकि इसमें आपकों सभी खेलों जैसे कि फ़ुटबॉल, हॉकी, क्रिकेट, बेसबॉल, टेनिस बॉल, कबड़ी इत्यादि के बारे में जानकारी होना अनिवार्य है.

खेल का मतलब क्रिकेट या हॉकी नहीं है जो हमारे देश में ज़्यादा पॉप्युलर माना जाता है बल्कि एक अच्छे पत्रकारिता के लिए आपकों सभी खेलों के बारे में जानकारी होनी चाहिए.

खेल की समझ के अलावा आपकों दुनियाभर में हो रही है खेलों पर भी अपनी नज़र गड़ाए रखनी होती है ताकि आप सभी चीजों से अपडेट रहे.

आपकों लोगों को सही तरह से खबर रिपोर्ट करने के लिए हमेशा खेलों की घटनाओं और बातों पर ध्यान देना होता है जिसमें आपकी holiday भी कुर्बान हो जाती हैं.

खेल से संबंधित खबर के लिए आपकों देश – विदेश की यात्रा करनी पड़ती हैं जिससे आपके  परिवार के लिए बहुत कम वक्त मिलता है.

इस कैरियर में जाना उतना मुश्किल तो नहीं है लेकिन इसमें लंबे समय तक टिके रहना आपके लिए बहुत मुश्किल हो सकता है. इसके अलावा बहुत सी और भी बातें है जो इस कैरियर से आपकों थोड़ी परेशानी हो सकती हैं.

लेकिन ऐसा कोई भी कैरियर नहीं है जहां आपकों परेशानियों का सामना करना नहीं पड़े इसलिए यदि आप खेल पत्रकार बनना चाहते हैं तो बिना किसी झिझक के चुन सकते हैं.

स्पोर्ट्स जर्नलिज़्म बनने के लिए टॉप टिप्स

एक स्पोर्ट्स जर्नलिज़्म बनने के लिए आपके अंदर खेल के प्रति जुनून होना चाहिए और इसके लिए आपकों स्पोर्ट्स से Love करना पड़ेगा.

यदि आप ख़ुद ही खेल से प्यार नहीं करते हैं और यह सोच रहे हैं कि इसमें पत्रकारिता करेंगे तो बहुत जल्द इस क्षेत्र से बाहर हो जाएंगे.

इस क्षेत्र में खेल और खिलाड़ियों के बारे में जानकारी के अलावा आपको पत्रकारिता के लिए Investment पर भी विचार करना पड़ेगा.

इसलिए एक बड़ा खेल पत्रकार बनने के लिए सबसे पहला टिप्स तो यह होता है कि आप खेलों के प्रति रुचि जगाए. तभी आप आगे चल कर इस क्षेत्र में कुछ नाम कमा सकते हैं.

1. स्पोर्ट्स राइटिंग

हम जानते हैं कि लिखना एक कला है और किसी भी प्रकार के जर्नलिज़्म में सक्सेस के लिए आपकों अच्छा लेखन करना आना चाहिए.

आप अच्छी लेखन के लिए जितना पढ़ेंगे या जानकारी रखेंगे उतना ही अच्छा होगा. जिससे आपका पत्रकारिता के लिए लेखन बेहतर होते जाता है और जिससे नई कामयाबी की योर बढ़ते रहते हैं.

2. ज़्यादा से ज़्यादा लिखें 

आप अपने लेखन को बेहतर बनने के लिए जितना लिखेंगे उतना ही अच्छा होगा इसलिए हर रोज कुछ न कुछ लिखने का practice करते रहें.

यदि आप स्पोर्ट्स जर्नलिज़्म में बड़ी कामयाबी हासिल करना चाहते हैं तो आपकों अपने कॉलेज के दिनों से ही लिखने का काम शुरू कर देना चाहिए.

3. इंटरव्यू की प्रैक्टिस

जैसे कि आप जानते हैं कि आज पत्रकारिता करने का माध्यम अनेकों हो गए हैं जैसे कि टेलीविजन, वेब – चैनल आदि जहां खबर को और अन्वेषण करने के लिए खिलाड़ियों का Interview लेना होता है.

इसलिए आपकों कॉलेज के वक्त से ही Interview लेने की प्रैक्टिस शुरू कर देनी चाहिए ताकि आगे चल कर कोई मुस्किल का सामना न करना पड़े.

आपकों बड़े पत्रकार बनने के लिए सबसे पहले छोटे से शुरूवात करनी चाहिए जिसके लिए आप अपने लोकल मीडिया में अप्लाई कर सकते हैं.

इस क्षेत्र में आपकों एक खिलाड़ी से क्या पूछना चाहिए? इसके बारे में जानकारी होनी चाहिए जो ज़्यादातर पत्रकार ग़लती करते हैं कि कोई भी सवाल पूछ देते हैं.

इसे भी पढ़े : 

खेल पत्रकार के लिए कोर्स और इंटरव्यू की जानकारी 

जैसे कि ऊपर बताया गया कि आपके कोर्स के दौरान या कोर्स ख़त्म हो जाने पर लेखन और इंटरव्यू का प्रैक्टिस करना शुरू कर देना चाहिए.

आप चाहें तो किसी लोकल पेपर से शुरुवात कर सकते हैं और धीरे – धीरे आगे बढ़ सकते हैं. आपकों ध्यान देना चाहिए कि आप एक दम से बड़े खिलाड़ी जैसे कि विराट कोहली, रोहित शर्मा आदि का इंटरव्यू नहीं ले सकते हैं.

लेकिन यदि आप रेग्युलर मेहनत और खेल के प्रति जुनून रखे रहते हैं तो वो दिन भी आएगा जब आप बड़े खिलाड़ियों का इंटरव्यू लेने के लिए आपकों चयन किया जाएगा.

निष्कर्ष, 

इस पोस्ट के माध्यम से आपने सीखा कि खेल पत्रकारिता क्या हैं और आप कैसे इसमें अपनी कैरियर बना सकते हैं. यदि आप स्पोर्ट्स जर्नलिज़्म में जाना चाहते हैं तो यह सही समय है अपने कैरियर को एक नई दिशा देने के लिए.

नीचे हमें comment करें आपकों कौन सा कैरियर विकल्प अच्छा लग रहा है और आप कौन सा कैरियर में आगे जाना चाहते हैं.

हम आशा करते हैं कि हमारी यह पत्रकारिता ( Journalism) पर निर्धारित आर्टिकल आपकों पसंद आई होगी और यदि अच्छी लगीं है तो इसे अपने दोस्तों, रिश्तेदारों, परिवारजनों, इत्यादि के साथ अपने सोशल मीडिया पर शेयर करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here